Ayurvedic kadha for immunity booster

Ayurvedic kadha for immunity booster in Hindi

मौसम के बदलते ही खांसी, जुखाम, बुखार जैसी बीमारियाँ हमारे शरीर को घेर लेती है क्योंकि हमारा शरीर इस बदलते मौसम में पैदा होने वाले बैक्टीरिया और वायरस से लड़ने के लिए तैयार नहीं होता!

इसलिए आयुर्वेदिक काढ़ा भारत का एक बहुत ही पुराना घरेलु नुस्खा है जिसके जरिये हम अपने शरीर को इन बिमारियों से लड़ने के लिए मजबूत बनाते है!

कोरोना महामारी (COVID -19 Pandemic) के इस समय में भारत सरकार के आयुष मंत्रालय द्वारा भी लोगो को काढ़ा पीने की सलाह दी गई है!

Read also :- रोग प्रतिरोधन क्षमता को बढ़ाने के 10 प्राकृतिक तरीके

Ayurvedic kadha for immunity booster

कैसे बनाये घर पर ही आयुर्वेदिक काढ़ा

आयुर्वेदिक काढ़ा बनाने की विधि

  • तुलसी (Basil)
  • हल्दी (Turmeric)
  • लहसून (Garlic)
  • अदरक (Ginger)
  • अजवाइन (Ajwain)
  • बड़ी इलाइची (Large Cardamom)

इन सभी सामग्री को को 1/2 से 1 लीटर पानी में डाल कर उबाल लें!

काढ़ा जब उबलने लग जाए तो काढ़े से निकलने वाली भाप को भी सूंघे!

10 से 15 मिनट तक काढ़े को उबाले और उसके बाद हल्का ठंडा हो जाने पर पिए!

भारत सरकार के आयुष मंत्रालय द्वारा बताया गया काढ़ा

Ayurvedic kadha for immunity booster

IngredientsQty
तुलसी पाउडर (Basil)30 gram
काली मिर्च (Black Pepper) 20 gram
सोंठ (Dry ginger)30 gram
दालचीनी (Cinnamon)20 gram
मुनक्का (Raisin)थोड़ी मात्रा में

इन सभी को 4 से 5 कप पानी में दाल कर अच्छे से उबाल लें!

इसके अलावा काढ़े को मीठा बनाने के लिए चीनी की जगह गुड़ का इस्तेमाल करें!

जब काढ़ा हल्का गुनगुना हो जाए तो इसका सेवन करें!

और क्या सुझाव दिए है आयुष मंत्रालय द्वारा

  • गर्म पानी पिएं
  • रोज़ाना योग और प्राणायाम करें
  • हल्दी, लहसून, जीरा और धनिया का ज्यादा से ज्यादा अपने खाने में इस्तेमाल करें!
  • सुबह 10 ग्राम च्यवनप्राश लें! जिन लोगो को शुगर की बीमारी है वो शुगर फ़्री च्वयनप्राश लें!
  • आधा चम्मच हल्दी को 150 मिली लीटर दूध में अच्छी तरह मिला कर सुबह और शाम दोनों टाइम हल्दी वाला दूध लें!

Note:- काढ़ा कोरोना (Corona) वायरस को नहीं मारता पर ये आपके शरीर को कोरोना (COVID-19) से लड़ने के लिए मजबूत बनाता है!

इन आयुर्वेदिक तरीको रोज़ाना अपनाएं

नाक में नारियल का तेल या गाय का देसी घी दिन में दो बार सुबह और शाम को लगाएं!

तिल का तेल या फिर नारियल के तेल से 2 से 3 मिनट तक कुल्ला करने के बाद थूक दे और फिर गर्म पानी से कुल्ला कर लें!

सुखी खांसी या फिर गले में दिक्कत होने पर करें ये उपचार

पुदीने के पत्तो को पानी में उबाल कर उसकी भांप लें!

लॉन्ग पाउडर को चीनी या फिर शहद के साथ दिन में 2 से 3 बार लें!

सुबह उठ कर और रात को सोने से पहले गर्म पानी में नमक और थोड़ी हल्दी मिला कर कुल्ला करें!

Yo may also like :- बुखार (Fever) हो जाने पर कौन-कौन से घरेलु उपाय है कारगर

6 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *